Wednesday, September 16, 2020

सरकारी नौकरी से पहले संविदा पर रखने का विरोध

 सरकारी नौकरी से पहले संविदा पर रखने के प्रस्ताव से नाराज बीएड टीम के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया| मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन डीएम को दिया और पुनर्विचार की मांग की|
 B.Ed लीगल टीम के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश कुमार शुक्ला ने कहा कि सरकारी नौकरी से पहले 5 साल संविदा पर काम करने का शासन का प्रस्ताव बेरोजगार के साथ मजाक किया है| उन्होंने कहा कि इससे युवा वर्ग मायूस है| तथा अब तक सरकारी नौकरी के लिए प्रयास कर रहे पढ़े-लिखे युवाओं की 5 साल और इंतजार करना पड़ेगा| उन्होंने यह भी बताया कि इससे भ्रष्टाचार बढ़ेगा| प्रवक्ता अंशुमान सिंह ने कहा कि सरकार समूह ख और ग में भर्ती प्रक्रिया में पहले 5 साल संविदा की नौकरी की शुरुआत युवाओं के हितों के खिलाफ है| सरकार को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए| डीएम कार्यालय तक मार्च करते हुए पहुंचे छात्रों ने मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन डीएम को दिया| जिला प्रमुख शोभित श्रीवास्तव ,संदीप मिश्रा ,शुभम श्रीवास्तव सहित अन्य लोग शामिल रहे|
सरकारी नौकरी से पहले संविदा पर रखने का विरोध

 

सरकारी नौकरी से पहले संविदा पर रखने का विरोध Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Updatemarts

No comments:

Post a Comment