Thursday, July 22, 2021

यूपी कैबिनेट: इन विद्यालयों में मानदेय पर रखे जाएंगे शिक्षक, 12 से 15 हजार तक होगा मानदेय

 लखनऊ। सहायता प्राप्त संस्कृत माध्यमिक विद्यालयों और राजकीय संस्कृत विद्यालयों में शैक्षिक सत्र S 2021-22 एवं 2022-23 में (ग्रीष्मावकाश की अवधि को छोड़कर) या नियमित चयनित शिक्षक के आने तक (जो भी पहल हो) अस्थायी रूप से मानदेय पर शिक्षकों भर्ती की जाएगी। शिक्षक भर्ती के लिए प्रत्येक जिले में सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालय के प्रबंधक की अध्यक्षता में एक चयन समिति का गठन किया जाएगा। योगी कैबिनेट की बुधवार को

यूपी कैबिनेट: इन विद्यालयों में मानदेय पर रखे जाएंगे शिक्षक, 12 से 15 हजार तक होगा मानदेय


आयोजित बैठक में इसका प्रस्ताव मंजूर किया गया। प्रदेश सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि संस्कृत विद्यालयों में शिक्षकों की कमी को दूर करने एवं पठन पाठन की सुचारु व्यवस्था के लिए मानदेय पर संस्कृत शिक्षक नियुक्त करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि चयन समिति में संबंधित जिलाधिकारी की ओर से नामित अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, संबंधित मंडल के उप निरीक्षक संस्कृत पाठशालाएं तथा सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय वाराणसी की ओर से नामित 2 विशेषज्ञ शामिल होंगे। विश्वविद्यालय की ओर से नामित विशेषज्ञों द्वारा परम्परागत विषय के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार संस्कृत भाषा में ही लिया जाएगा। चयन के लिए शैक्षिक पृष्ठभूमि से 120 अंक एवं साक्षात्कार से 80 अंक प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि पूर्व मध्यमा स्तर के शिक्षण कार्य 12,000 रुपये प्रतिमाह तथा उत्तर मध्यमा स्तर के शिक्षण कार्य पर 15,000 रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा। चयन में राज्य सरकार की विद्यमान आरक्षण नीति के अनुरूप नियमानुसार आरक्षण देने का भी प्रावधान किया है।

यूपी कैबिनेट: इन विद्यालयों में मानदेय पर रखे जाएंगे शिक्षक, 12 से 15 हजार तक होगा मानदेय Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Updatemarts

Social media link